भ्रष्टाचार पर हिन्दी में निबंध | Bhrashtachar Essay In Hindi PDF Free Download

19 View
File Size: 1.45 MiB
Download Now
By: Livepdf
Up Like: 10
File Info

भ्रष्टाचार पर हिन्दी में निबंध Free PDF Download Bhrashtachar Essay In Hindi PDF Free Download भ्रष्टाचार पर निबंध 100 शब्द भ्रष्टाचार पर निबंध 250 word भ्रष्टाचार पर निबंध 200 शब्दों में भ्रष्टाचार पर निबंध 500 शब्दों में भ्रष्टाचार के परिणाम भ्रष्टाचार पर दोहे भ्रष्टाचार की समस्या भ्रष्टाचार के दोष Bhrashtachar par Nibandh (भ्रष्टाचार पर निबंध) भ्रष्टाचार पर निबंध Bhrashtachar Par Nibandh भ्रष्टाचार पर निबंध | Essay on Corruption in Hindi भ्रष्टाचार पर निबंध IAS भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम भ्रष्टाचार के परिणाम भ्रष्टाचार क्या है भ्रष्टाचार के कारणों की विवेचना कीजिए? भ्रष्टाचार कारण और निवारण पर निबंध

विभिन्न क्षेत्रों  भ्रष्टाचार कि स्थिति


आज देश में जीवन का ऐसा कोई क्षेत्र ऐसा नहीं बचा हैं. जहाँ भ्रष्टाचार का प्रवेश न हो. शिक्षा व्यापार बन गयी हैं. धन के बल पर मनचाहे परीक्षाफल प्राप्त हो सकते हैं. व्यापार में मुनाफाखोरी, मिलावट और कर चोरी व्याप्त हैं. धर्म के नाम पर पाखंड और दिखावे का जोर हैं.

भ्रष्टाचार के कारण तथा समाज पर प्रभाव


देश में व्याप्त भ्रष्टाचार के अनेक कारण है सबसे प्रमुख कारण है हमारे चरित्र का पतन होना थोड़े से लोभ और लाभ के लिए मनुष्य अपना चरित्र डिगा रहा है. शानदार भवन, कीमती वस्त्र, चमचमाती कार, एसी, टेलीविजन, वाशिंग मशीन आदि पाने के लिए लोग पागल हैं.

वे उचित अनुचित कोई भी उपाय करने को तैयार हैं. वोट पाने के लिए हमारे राजनेता निकृष्टतम हथकंडे अपना रहे हैं. हमारे धर्माचार्य भक्ति, ज्ञान, त्याग आदि का प्रवचन देते है और स्वयं लाखों की फीस लेकर घर भरने लगते हैं.

भ्रष्टाचार उन्मूलन के लिए सुझाव


हम चरित्र की महत्ता भूल चुके हैं. धन के पुजारी बन गये हैं. चरित्र को संवारे बिना भ्रष्टाचार से मुक्त होना असम्भव हैं. इसके साथ ही लोगों को जागरूक करना भी आवश्यक हैं. जनता को भी चाहिए कि वह चरित्रवान लोगों को ही मत देकर सत्ता में पहुचाएं.

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार के विरुद्ध युद्ध छेड़ रखा हैं. विमुद्रीकरण को भ्रष्टाचार उन्मूलन का प्रथम चरण बताया गया हैं. इसके अतिरिक्त नई तकनीकों के प्रयोग और उन्हें प्रोत्साहन देकर भ्रष्टाचार समाप्ति के प्रयास हो रहे हैं.

PDF File Categories

More Related PDF Files